रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (जन्म 15 जुलाई 1959) एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं जो भारतीय जनता पार्टी से हैं और एक हिन्दी कवि भी हैं। वर्तमान केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री, भारत सरकार, हरिद्वार क्षेत्र से लोक सभा सांसद है, डॉ रमेश पोखरियाल जी उत्तराखण्ड राज्य के पाँचवे मुख्यमंत्री रहे हैं।

रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ मौलिक रूप से साहित्यिक विधा के व्यक्ति हैं। अब तक हिन्दी साहित्य की तमाम विधाओं (कविता, उपन्यास, खण्ड काव्य, लघु कहानी, यात्रा साहित्य आदि) में प्रकाशित उनकी कृतियों ने उन्हें हिन्दी साहित्य में सम्मानजनक स्थान दिलाया है। राष्ट्रवाद की भावना उनमें कूट-कूट कर भरी हुई है। यही कारण है कि उनका नाम राष्ट्रकवियों की श्रेणी में शामिल है।

कविता संग्रह

  • समर्पण
  • नवांकुर
  • मुझे विधाता बनना है
  • तुम भी मेरे साथ चलो
  • देश हम जलने न देंगे
  • जीवन पथ में
  • मातृभूमि के लिए

कहानी संग्रह

  • क्या नहीं हो सकता
  • भीड़ साक्षी है
  • बस एक ही इच्छा
  • रौशनी की एक किरण
  • खड़े हुए प्रश्न
  • विपदा जीवित है
  • एक और कहानी

उपन्यास

  • मेजर निराला
  • बीरा
  • निशांत
  • छूट गया पड़ाव
  • अपना पराया
  • पहाड़ से ऊँचा
  • पल्लवी

व्यक्तित्व विकास

  • सफलता के अचूक मंत्र
  • भाग्य पर नहीं परिश्रम पर विश्वास करें
  • संसार कायरो ले लिए नहीं
  • सपने जो सोने न दें


साहित्यिक जीवन   राजनैतिक जीवन   विज़न 2020


समाचार

January 21, 2020

अधिक पढ़े

सिर्फ परीक्षा के अच्छे अंक जिंदगी नहीं

सिर्फ परीक्षा के अच्छे अंक जिंदगी नहीं

January 21, 2020

सिर्फ परीक्षा के अच्छे अंक जिंदगी नहीं

अधिक पढ़े


Don’t want anarchy in versities want conducive environment for academics

Don’t want anarchy in versities want conducive environment for academics

January 16, 2020

Our ministry is talking to both the teachers and the students. JNU is an important...अधिक पढ़े

प्रशिक्षण बिना नियमित नहीं होंगे इंजीनियरिंग के शिक्षक

प्रशिक्षण बिना नियमित नहीं होंगे इंजीनियरिंग के शिक्षक

January 13, 2020

ग्राफिक एरा हिल विश्वविद्यालय में एआइसीटीई के तीन ऑनलाइन पोर्टल किए गए लॉन्च

अधिक पढ़े


और देखें

Like on Facebook

Follow on Twitter

आशीर्वचन अधिक पढ़े

  • ‘‘युवा साहित्यकार निशंक ने कम उम्र में राष्ट्रभक्ति से ओत-प्रोत तमाम गीत और कविताएं रचकर राष्ट्र का सम्मान बढ़ाया है।...
    श्री ज्ञानी जैल सिंह
    भारत के तत्कालीन महामहिम राष्ट्रपति। (1984)
  • ‘‘डाॅ. निशंक की रचनाएं पिछड़े और गरीब तबके की पीड़ा को सामने लाता है। जो समस्त विश्व के पिछड़े समाज...
    डेविड फ्राउले
    सुप्रसिद्ध अमेरिकी लेखक।
  • ‘‘डाॅ. निशंक की रचनाओं में भारतीय संस्कृति के साक्षात दर्शन होते हैं। उनके साहित्य में एक आम आदमी के सुख-दुःख...
    प्रो. तात्यानिया ओरेंसकाया
    विभागाध्यक्ष, एफरो एशियन इंस्टीट्यूट, जर्मनी।
  • ‘‘राजनीति में अत्यंत व्यस्त होने के बावजूद निरंतर लेखन डाॅ. निशंक की साहित्य प्रतिभा को दर्शाता है। उनका लेखन राष्ट्र...
    पद्मश्री रस्किन बाॅण्ड
    विख्यात साहित्यकार
  • ‘‘डाॅ0 ‘निशंक’ जैसे रचनात्मक एवं संवेदनशील साहित्यकार को सम्मानित करते हुए मैं गर्व का अनुभव कर रहा हूँ। डाॅ0 निशंक...
    डाॅ0 नवीन रामगुलाम
    मा. प्रधानमंत्री, माॅरिशस गणराज्य
  • ‘‘डाॅ0 रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, साहित्यिक विधाओं का बेजोड़ संगम हैं। उनकी कविताएं जहां एक ओर आमजन को राष्ट्रीयता की भावना...
    सर अनिरुद्ध जगन्नाथ
    महामहिम राष्ट्रपति, माॅरिशस गणराज्य

संपर्क करें

हमसे जुड़े रहे

Address
6B Preetam Road, Dehradun 248001, Uttarakhand,
Phone 0135-2718899

Email Address
drrameshpokhriyal@gmail.com