डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (जन्म 15 जुलाई 1959) एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं जो भारतीय जनता पार्टी से हैं और एक हिन्दी कवि भी हैं। वे हरिद्वार क्षेत्र से लोक सभा सांसद है और लोक सभा आश्वासन समिति के अध्यक्ष हैं, डॉ रमेश पोखरियाल जी उत्तराखण्ड राज्य के पाँचवे मुख्यमंत्री रहे हैं।

डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ मौलिक रूप से साहित्यिक विधा के व्यक्ति हैं। अब तक हिन्दी साहित्य की तमाम विधाओं (कविता, उपन्यास, खण्ड काव्य, लघु कहानी, यात्रा साहित्य आदि) में प्रकाशित उनकी कृतियों ने उन्हें हिन्दी साहित्य में सम्मानजनक स्थान दिलाया है। राष्ट्रवाद की भावना उनमें कूट-कूट कर भरी हुई है। यही कारण है कि उनका नाम राष्ट्रकवियों की श्रेणी में शामिल है।

कविता संग्रह

  • समर्पण
  • नवांकुर
  • मुझे विधाता बनना है
  • तुम भी मेरे साथ चलो
  • देश हम जलने न देंगे
  • जीवन पथ में
  • मातृभूमि के लिए

कहानी संग्रह

  • क्या नहीं हो सकता
  • भीड़ साक्षी है
  • बस एक ही इच्छा
  • रौशनी की एक किरण
  • खड़े हुए प्रश्न
  • विपदा जीवित है
  • एक और कहानी

उपन्यास

  • मेजर निराला
  • बीरा
  • निशांत
  • छूट गया पड़ाव
  • अपना पराया
  • पहाड़ से ऊँचा
  • पल्लवी

व्यक्तित्व विकास

  • सफलता के अचूक मंत्र
  • भाग्य पर नहीं परिश्रम पर विश्वास करें
  • संसार कायरो ले लिए नहीं
  • सपने जो सोने न दें


अधिक पढ़े


समाचार

राज्य को फिल्म सेंसर बोर्ड के गठन पर प्रयास तेज करने होंगे |

राज्य को फिल्म सेंसर बोर्ड के गठन पर प्रयास तेज करने होंगे |

November 19, 2017

राज्य को फिल्म सेंसर बोर्ड के गठन पर प्रयास तेज करने होंगे |
अधिक पढ़े

उत्तराखंड फिल्म एसोसिएशन द्वारा आयोजित

उत्तराखंड फिल्म एसोसिएशन द्वारा आयोजित "युफा अवार्ड/सम्मान समारोह

November 18, 2017

सिनेमा हमेशा से संस्कृति का परिचायक रहा है । क्योकि सिनेमा ने संस्कृति के विषयों को...अधिक पढ़े


हाईवे का निर्माण समय पर होने की उम्मीद बंधी है ।

हाईवे का निर्माण समय पर होने की उम्मीद बंधी है ।

November 17, 2017

दून-हरिद्वार हाईवे के निर्माण कार्य में लापरवाही को केंद्र सरकार ने काफी गंभीरता से लिया ।...अधिक पढ़े

गुजरात गौरव महासंपर्क अभियान

गुजरात गौरव महासंपर्क अभियान" के तहत द्वारका और जामनगर ज़िलो के शक्ति केंद्र प्रमुखों के साथ बैठक की |

November 10, 2017

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय श्री अमित शाह जी के साथ "गुजरात गौरव महासंपर्क अभियान" के तहत...अधिक पढ़े


और देखें

Like on Facebook

Follow on Twitter

आशीर्वचन

  • ‘‘डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, साहित्यिक विधाओं का बेजोड़ संगम हैं। उनकी कविताएं जहां एक ओर आमजन को राष्ट्रीयता की भावना से जोड़ती हैं, वहीं उनकी कहानियां पाठकों को आम आदमी के दुःख-दर्द व यथार्थता से परिचित कराती हैं। मैं गर्व से कह सकता हूँ कि मैं भारत के एक ऐसे व्यक्ति से मिला हूँ, जो विलक्षण, उदार हृदय, विनम्र, राष्ट्रभक्त, प्रखर एवं संवेदनशील साहित्यकार है।’’
    सर अनिरुद्ध जगन्नाथ, महामहिम राष्ट्रपति, माॅरिशस गणराज्य
  • ‘‘सक्रिय राजनीति में रहते हुए भी जिस तरह से डॉ ‘निशंक’ साहित्य के क्षेत्र में लगातार संघर्षरत हैं, वह आम आदमी के बस की बात नहीं है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि वे अपनी लेखनी के जरिए देश के नीति नियंताओं के समक्ष विभिन्न मुद्दों को लेकर अनेक प्रश्न खड़े करते रहेंगे।’’
    अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व प्रधानमंत्री, (मई 2007)
  • ‘‘डॉ ‘निशंक’ जैसे रचनात्मक एवं संवेदनशील साहित्यकार को सम्मानित करते हुए मैं गर्व का अनुभव कर रहा हूँ। डॉ निशंक द्वारा लिखी गई कहानियों को मैंने गंभीरता से पढ़ा। उनकी कहानियों में हिमालयी जीवन के दुःख-दर्द एवं जीवट परिस्थितियों का साक्षात प्रतिविम्ब देखा जा सकता है।
    -डाॅ0 नवीन रामगुलाम, मा. प्रधानमंत्री, माॅरिशस गणराज्य
  • ‘‘राजनीति में अत्यंत व्यस्त होने के बावजूद निरंतर लेखन डाॅ. निशंक की साहित्य प्रतिभा को दर्शाता है। उनका लेखन राष्ट्र और लोगों को आपस में जोड़ता है।’’
    पद्मश्री रस्किन बाॅण्ड, विख्यात साहित्यकार
  • ‘‘समर्पण एवं नवांकुर की कविताएं अत्यंत सुंदर हैं। सरल और सरस भाषा के माध्यम से कवि बहुत कुछ कह गया है।’’
    श्री हरिवंशराय बच्चन, विख्यात साहित्यकार
  • ‘‘शब्द कभी नहीं मरते। डाॅ0 निशंक के ये देशभक्तिपूर्ण गीत हमेशा के लिए लोगों की जुबां पर रहेंगे।’’
    अमिताभ बच्चन, सदी के महानायक।

संपर्क करें

हमसे जुड़े रहे

Address
6B Preetam Road, Dehradun 248001, Uttarakhand,
Phone 0135-2718899

Email Address
drrameshpokhriyal@gmail.com